प्रतापगढ़: माँ बेल्हा देवी घाट पर टेबल टॉप एक्सरसाइज एवं मॉकड्रिल अभ्यास कार्यक्रम का होगा आयोजन-एडीएम

Date:

Share post:

आपदा की तैयारियों के सम्बन्ध में विभागीय अधिकारियों के साथ की गयी समीक्षा

आंधी, तूफान, वज्रपात से बचाव व जानकारी हेतु दामिनी एवं सचेत एप को मोबाइल में करें डाउनलोड-एडीएम

प्रतापगढ़। जिला आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण एवं 11वीं बटालियन वाराणसी एनडीआरएफ वाराणसी के संयुक्त तत्वाधान में बाढ़ की तैयारियों के दृष्टिगत बाढ़ आपदा विषय पर दिनांक 04 जुलाई को पूर्वान्ह 10 बजे से माँ बेल्हा देवी घाट पर आयोजित टेबल टॉप एक्सरसाइज एवं मॉकड्रिल अभ्यास कार्यक्रम किया जायेगा जिसको लेकर अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) त्रिभुवन विश्वकर्मा की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक की गयी। बैठक में एनडीआरएफ निरीक्षक इन्द्र देव कुमार ने टेबल टॉप एक्सरसाइज एवं मॉकड्रिल अभ्यास कार्यक्रम के बारे में विस्तृत जानकारी दी। मॉकड्रिल अभ्यास कार्यक्रम के दौरान विभागीय अधिकारी, विद्यालयो के बच्चो व जनसामान्य द्वारा प्रतिभाग किया जायेगा। बैठक में सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे जिन्हें अपर जिलाधिकारी ने आवश्यक दिशा निर्देश दिये। जल निगम को निर्देशित किया कि यदि बाढ़ के दौरान हैण्डपम्प डूब जाये तो उसके लिये लम्बी पाइप लगा दी जाये जिससे शुद्ध पानी मिल सके। पशुपालन विभाग को निर्देशित किया गया कि यदि आपदा के दौरान किसी पशु की हानि होती है तो उसका रजिस्ट्रेशन होना आवश्यक है, सभी पशुओं का रजिस्ट्रेशन पहले से करा लिया जाये जिससे आपदा के दौरान यदि किसी पशु की मृत्यु होती है तो उसे लाभ दिया जा सके। समस्त विभागो को निर्देशित किया गया कि जो भी संसाधन जिस विभाग में उपलब्ध है उसकी सूची आपदा विभाग को प्रेषित करा दे। अपर जिलाधिकारी ने सर्पदंश से बचाव हेतु सुरक्षा के उपाय के सम्बन्ध में बताया कि सांप के जहर को कभी भी चूसकर निकालने की कोशिश न करें, बिना चिकित्सीय सलाह किसी भी प्रकार की दवा मरीज को न दें, कॉटे हुये स्थान पर किसी प्रकार का मलहम न लगाये, सपेरे अथवा तांत्रिक के चक्कर में न पड़े तुरन्त पीड़ित व्यक्ति को तत्काल अस्पताल ले जाये जिससे उसका ईलाज हो सके। सर्पदंश के दौरान किसी व्यक्ति की मृत्यु होती है तो उसे सहायता धनराशि मुहैया करायी जाती है। उन्होने बताया कि आंधी, तूफान, वज्रपात से बचाव हेतु दामिनी एवं सचेत एप को मोबाइल में डाउनलोड कर लें जिससे होने वाली घटनाओं की जानकारी मिल सके। उन्होने बताया कि बाढ़ से पूर्व अपने कागजात को सुरक्षित रखे लें जैसे राशन कार्ड, पासबुक, मतदाता पहचान पत्र, आधार कार्ड आदि को वाटरप्रुव पालीथीन में रखें। बैठक में जिला कमांडेन्ट होमगार्ड डा0 धीरेन्द्र कुमार पाण्डेय, तहसीलदार सदर विनय कुमार द्विवेदी, जिला आपदा विशेषज्ञ अनुपम शेखर तिवारी, डिप्टी सीएमओ सहित सम्बन्धित विभाग के अधिकारी व विभिन्न आपदा मास्टर ट्रेनर उपस्थित रहे।

Author

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Related articles

वर्ल्ड एजुकेशन समिट एंड अवार्ड से सम्मानित हुई डॉ0 आकृति अग्रहरि

सुल्तानपुर। संविधान क्लब ऑफ इंडिया दिल्ली में वर्ल्ड एजुकेशन समिट एंड अवार्ड 20 जुलाई 2024 को आयोजन हुआ।...

वरिष्ठ समाजसेवी एवं लोकतंत्र सेनानी ने अपने जन्मदिन पर मरीजों को वितरित किया फल

जरवल, बहराइच। नगर के वरिष्ठ समाजसेवी एवं लोकतंत्र सेनानी प्रमोद कुमार गुप्ता ने अपनी 73वीं जन्मदिवस पर सामुदायिक...

भारतीय मूल की कमला हैरिस के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में आने से भारत पर क्या असर होगा?

अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव धीरे-धीरे दिलचस्प होता चला जा रहा है। जो बाइडेन ने राष्ट्रपति चुनाव से अपनी...

भाजपा व आरएसएस में वाजपेयी जी के ज़माने वाला समन्वय अब भी जरुरी

आज गुरु पूर्णिमा का दिन है । जगह – जगह संघ में उनके गुरु (संघ का भगवा ध्वज...